सिटी न्यूज़

दिल्ली की रोहिणी कोर्ट गोलीकांड़ का शार्प शूटर कानपुर से गिरफ्तार, दिल्ली पुलिस को थी तलाश

दिल्ली की रोहिणी कोर्ट गोलीकांड़ का शार्प शूटर कानपुर से गिरफ्तार, दिल्ली पुलिस को थी तलाश
UP City News | Jan 14, 2022 08:02 PM IST

कानपुर. दिल्ली की रोहिणी कोर्ट गोलीकांड का आरोपी रितिक पांडेय उर्फ गोलू को कानपुर पुलिस ने गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया. रितिक पांडेय को बिधनू पुलिस ने रमई के एक ढाबे से पकड़ा. वह ताजपुरिया गैंग का शार्प शूटर है. पुलिस ने उसके पास दो तमंचे और चार कारतूस भी बरामद किए हैं. गोलू दिल्ली रोहिणी कोर्ट में अगस्त 2021 में दो गुटों के बीच हुए गोलीकांड में शामिल था. गोलीकांड में जितेंद्र उर्फ गोगी की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. जबकि  2018 में दिल्ली के एलएनपीजी हॉस्पिटल में पुलिस की आंखों में मिर्च झोंककर अपने गैंग के सदस्य संदीप ढिल्लू को वह भगा ले गया था. पुलिस को उसकी काफी दिनों से तलाश थी.

थाना प्रभारी अतुल कुमार सिंह ने बताया कि रात को मुखबिर की सूचना पर रमईपुर स्थित बाला जी ढाबे पर छापा मारकर रितिक पांडेय उर्फ गोलू को गिरफ्तार कर लिया गया.  पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ की तो उसने बताया कि उसके पिता जगदंबा पांडेय ट्रक चालक हैं. वह परिवार संग दिल्ली के रोहिणी जीएफ सेक्टर में किराए के मकान में रहता था. वहां वह एक पब्लिक स्कूल में पढ़ाई कर रहा था, तभी उसकी दोस्ती टिल्लू ताजपुरिया गैंग के सदस्य राधे से हो गई.

राधे ने उसकी मुलाकात संदीप ढिल्लू से कराई. उस समय संदीप ढिल्लू जेल में था. इसके बाद उसने पहली वारदात संदीप ढिल्लू को छुड़ाने के लिए की और पुलिस कस्टडी में सिपाहियों की आंख में मिर्च झोंककर संदीप को छुड़ाने के लिए की.  पकड़े जाने पर वह 11 माह तिहाड़ जेल में रहा. गोलू ने बताया कि टिल्लू ताजपुरिया और जितेंद्र गोगी की आपसी दुश्मनी थी. इसके चलते टील्लू ताजपुरिया ने जेल से ही रोहिणी कोर्ट में गोली चलवाकर जितेंद्र गोगी की हत्या कराई थी.

इसकी बाद उसके बचपन के मित्र राधे की अज्ञात लोगों ने गोली मारकर हत्या कर दी. तब वह दिल्ली छोड़कर परिवार संग घाटमपुर स्थित मूल गांव राठिगांव में आकर रहने लगा. थाना प्रभारी ने बताया कि रितिक उर्फ गोलू पर दिल्ली में कई थानों में लूट, धमकी, मारपीट, आर्म्स एक्ट समेत अन्य आपराधिक मामले दर्ज हैं.