सिटी न्यूज़

आज का इतिहास: 10 मई 1857 को शुरू हुआ भारत का प्रथम स्वतंत्रता संग्राम, अंग्रेजों को खदेड़ने के बाद ही समाप्त हुआ

आज का इतिहास: 10 मई 1857 को शुरू हुआ भारत का प्रथम स्वतंत्रता संग्राम, अंग्रेजों को खदेड़ने के बाद ही समाप्त हुआ
UP City News | May 10, 2022 07:30 AM IST

नई दिल्ली. इतिहास के पन्नों को पलटेंगे तो कई ऐसी रोचक और महत्वपूर्ण तथ्य सामने आएंगे जिन्हें पहले कभी नहीं जानते थे. 10 मई को पूरी दुनिया में बेहद खास घटनाएं घटी जिन्हें जानना हर नागरिक के लिए जरूरी है. बहुत सी घटनाएं बेहद सुखुद रहीं तो बहुत से हादसों में पूरे विश्व को हिलाकर रख दिया. यूपी सिटी आपको 10 मई के इतिहास को आपके सामने रखने जा रहा है. जो बेहद महत्वपूर्ण है.

जानिए 1857 की क्रांति के बारे में
1857 का भारतीय विद्रोह, जिसे प्रथम भारतीय स्वतंत्रता संग्राम, सिपाही विद्रोह और भारतीय विद्रोह के नाम से भी जाना जाता है. ब्रिटिश शासन के विरुद्ध एक सशस्त्र विद्रोह था. यह विद्रोह दो वर्षों तक भारत के विभिन्न क्षेत्रों में चला. इस विद्रोह का आरंभ छावनी क्षेत्रों में छोटी झड़पों तथा आगजनी से हुआ था परन्तु जनवरी मास तक इसने एक बड़ा रूप ले लिया. विद्रोह का अन्त भारत में ईस्ट इंडिया कम्पनी के शासन की समाप्ति के साथ हुआ और पूरे भारत पर ब्रिटिश ताज का प्रत्यक्ष शासन आरंभ हो गया जो अगले 90 वर्षों तक चला.

भारत में ब्रितानी विस्तार का संक्षिप्त इतिहास
ईस्ट इंडिया कम्पनी ने रॉबर्ट क्लाइव के नेतृत्व में सन 1757 में प्लासी का युद्ध जीता. युद्ध के बाद हुई संधि में अंग्रेजों को बंगाल में कर मुक्त व्यापार का अधिकार मिल गया. सन 1764 में बक्सर का युद्ध जीतने के बाद अंग्रेजों का बंगाल पर पूरी तरह से अधिकार हो गया. इन दो युद्धों में हुई जीत ने अंग्रेजों की ताकत को बहुत बढ़ा दिया और उनकी सैन्य क्षमता को परम्परागत भारतीय सैन्य क्षमता से श्रेष्ठ सिद्ध कर दिया. कंपनी ने इसके बाद सारे भारत पर अपना प्रभाव फैलाना आरंभ कर दिया.

1857 की क्रांति के समय के भारतीय राज्य।
सन 1843 में ईस्ट इंडिया कम्पनी ने सिन्ध क्षेत्र पर रक्तरंजित लड़ाई के बाद अधिकार कर लिया. सन 1839 में महाराजा रणजीत सिंह की मृत्यु के बाद कमजोर हुए पंजाब पर अंग्रेजों ने अपना हाथ बढा़या और सन 1848 में दूसरा अंग्रेज-सिख युद्ध हुआ. सन 1849 में कंपनी का पंजाब पर भी अधिकार हो गया. सन 1853 में आखरी मराठा पेशवा बाजी राव के दत्तक पुत्र नाना साहेब की पदवी छीन ली गयी और उनका वार्षिक खर्चा बंद कर दिया गया. सन 1854 में बरार और सन 1856 में अवध को कंपनी के राज्य में मिला लिया गया.

.strong>10 मई की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ
-इटली के खोजकर्ता और नाविक कोलंबस ने कायमान द्वीप की 1503 में खोज की.
-पानीपत की पहली लड़ाई में जीत के बाद बाबर ने 1526 में तत्कालीन भारत की राजधानी अकबराबाद (आगरा) में प्रवेश किया.
-फ्रांसीसी नाविक जैक्स कॉर्टियर न्यूफाउण्डलैंड 1534 में पहुँचा.
-ब्रिटिश सेना ने जमैका पर 1655 में कब्जा किया.
-लुई 15वें की मौत के बाद लुई 16वां फ्रांस का राजा 1774 में बना.
-नेपोलियन ने लोदी ब्रिज के युद्ध में ऑस्ट्रिया को 1796 में हराया.
-लंदन की नेशनल गैलरी को 1824 में आम लोगों के लिए खोला गया.
-भारत का प्रथम स्वतंत्रता संग्राम 1857 में इसी दिन आरंभ हुआ था.
-दिल्ली से करीब 60 किलोमीटर दूर मेरठ में अंग्रेजों के खिलाफ पहली लड़ाई में ब्रिटिश सेना में काम करने वाले भारत माता के -वीरों ने 50 अंग्रेज सिपाहियों को 1857 में मार डाला था.
-नीदरलैंड की राजधानी एम्स्टरडम में 1916 में ऐतिहासिक शिप पोर्ट संग्रहालय खोला गया.
-जर्मनी ने बेल्जियम, नीदरलैंड और लक्जमबर्ग पर 1940 में आक्रमण किया.
-रूसी सेना ने चेक गणराज्य की राजधानी प्राग पर 1945 में कब्जा किया.
-सोवियत सेना 1959 को अफगानिस्तान पहुंची.
-अमेरिका ने 1972 में नेवादा में परमाणु परीक्षण किया.
-लंदन में ईरानी दूतावास पर 1980 में कब्जा ख्तम हुआ.
-पहली बार बॉम्बे (वर्तमान में मुंबई) 1981 में रात में क्रिकेट मैच खेला गया.
-संतोष यादव 1993 में दुनिया के सबसे ऊँचे पर्वत शिखर एवरेस्ट पर दो बार पहुंचने वाली विश्व की पहली महिला पर्वतारोही बनी.
-दक्षिण अफ़्रीका में 1994 में नेल्सन मंडेला द्वारा प्रिटोरिया में एक ऐतिहासिक समारोह में राष्ट्रपति पद की शपथ ग्रहण की गयी.
-दक्षिण अफ्रीका की सोने की एक खान में लिफ्ट पर 1995 में ट्रेन गिरने से 104 मजदूरों की मौत.
-मोजाम्बिक के राष्ट्रपति जोकि अल्बर्टो फिसानों 2003 में 6 दिवसीय यात्रा पर भारत पहुँचे.
-लाहौर-अमृतसर बस सेवा शुरू करने पर 2005 में भारत और पाकिस्तान सहमत.
-नोबेल पुरस्कार से सम्मानित आस्कर एरियास ने 1987 में दुबारा कोस्टारिका के राष्ट्रपति पद की शपथ ग्रहण की.
-अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन ने कार्य स्थली पर होने वाले भेदभाव पर 2007 में रिपोर्ट जारी की.
-सीरिया की राजधानी दमिश्क 2012 में दो बम धमाकों में 55 लोगों की मौत और 370 अन्य घायल.
-दक्षिण अफ्रीका में वर्ष 2014 के आम चुनाव में अफ्रीकी नेशनल कांग्रेस की जीत हुई .
10 मई को जन्मे व्यक्ति
–भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस अध्यक्ष अल्फ़्रेड बेब का जन्म 1834 में हुआ.
–बांग्ला और हिन्दी फ़िल्मों के प्रसिद्ध गायक, संगीतकार और अभिनेता पंकज मलिक का जन्म 1905 में हुआ.
–भारतीय संविधान के विशेषज्ञ एवं ‘पद्म भूषण’ से भी सम्मानित सुभाष कश्यप का जन्म 1929 में हुआ.
–तेरहवीं लोकसभा के सदस्य बृजलाल खाबरी का जन्म 1961 में हुआ.
–परमवीर चक्र सम्मानित भारतीय सैनिक योगेन्द्र सिंह यादव का जन्म 1980 में हुआ.
10 मई को हुए निधन
–महाराष्ट्र के प्रसिद्ध समाज सुधारक और दलितों के हितेषी छत्रपति साहू महाराज का निधन 1922 में हुआ.
–एक प्रसिद्ध चिकित्सक, प्रसिद्ध राष्ट्रवादी मुस्लिम नेता मुख़्तार अहमद अंसारी का निधन 1936 में हुआ.
–पेनिसिलन के विकास में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले सर एडवर्ड इब्राहम की मृत्यु 1999 में हुई.
–फ़िल्म जगत् के मशहूर उर्दू शायर कैफ़ी आज़मी का निधन 2002 में हुआ.