सिटी न्यूज़

बिना बिजली कनेक्शन के ही 30 से 60 हजार तक का मिला बिल, ग्रामीण हैरान, जांच शुरू

बिना बिजली कनेक्शन के ही 30 से 60 हजार तक का मिला बिल, ग्रामीण हैरान, जांच शुरू
UP City News | Nov 23, 2022 08:27 AM IST

शामली. यूपी के शामली (Shamli News) में हैरान कर देने वाला सामने सामने आया है. बताया गया कि जिले के झिंझाना क्षेत्र के एक दर्जन गांवों के निवासियों को बिजली कनेक्शन नहीं होने के बावजूद 30,000 रुपये से 60,000 रुपये तक के बिजली बिल मिला है. इसके एक दिन बाद, शामली की जिला मजिस्ट्रेट जसजीत कौर ने जांच के आदेश दिए हैं और अधिकारियों जवाब तलब किया किया है. जबकि डिस्कॉम, पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड (पीवीवीएनएल) को 24 घंटे में रिपोर्ट पेश करनी है.

डीएम ने मंगलवार को टीओआई को बताया, "अगर ग्रामीणों को वादे के मुताबिक बिजली कनेक्शन नहीं दिया गया और उनसे वसूली (बिजली बिलों की) की गई, तो ऐसा करने वाले अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी." इस बीच, बिजली अधिकारियों ने कहा कि मीटर काट दिया गया होगा क्योंकि ग्रामीणों ने "अपने बिलों का भुगतान नहीं किया. ग्रामीणों ने दावे को खारिज करते हुए कहा कि उनके पास शुरुआत में कभी बिजली कनेक्शन नहीं था.

पीवीवीएनएल, शामली के अधीक्षण अभियंता राम कुमार ने कहा कि "हमारी टीमों ने जांच शुरू कर दी है. हालांकि, यह आश्चर्यजनक है कि ग्रामीण वर्षों तक चुप रहे. ऐसी संभावना है कि बकाया भुगतान न होने के कारण मीटर का कनेक्शन काट दिया गया हो. उन्होंने कहा, सही कारण जांच के बाद ही सामने आएगा."

प्रभावित गांवों में से एक, खोसका के पूर्व प्रधान भगत राम ने आश्चर्य व्यक्त किया कि यह कैसे संभव है जब उन्हें बिजली कनेक्शन देने का वादा किया गया था लेकिन कभी प्रदान नहीं किया गया. "ज्यादातर मीटर जो भारी बिल उत्पन्न करते थे, उनमें बिजली कनेक्शन नहीं था. अधिकारियों को यह जांच करने की आवश्यकता है कि वे बिल कैसे उत्पन्न करने में कामयाब रहे.

SSP Gorakhpur ने 10 थानेदारों का किया तबादला, 3 को मिली नई जिम्मेदारी