सिटी न्यूज़

एक व्यक्ति बंदरों को भगाने के लिए खुद ही बन गया बंदर, जानें फिर क्या हुआ

एक व्यक्ति बंदरों को भगाने के लिए खुद ही बन गया बंदर, जानें फिर क्या हुआ
UP City News | Nov 21, 2022 10:07 AM IST

हापुड़. उत्तर प्रदेश के हापुड़ (Hapur News) में एक अजिबो-गरीब मामला देखने को मिला है. जहां बंदरों को भगाने के लिए एक व्यक्ति ने अनोखा तरीका अपनाया है. बंदरों के बढ़ते आतंक के चलते व्यक्ति खुद ही बंदर बन गया. जिसे देखकर मंदिर में भगदड़ मच गई. इस दौरान अपने बीच एक विचित्र व्यक्ति को देखकर बंदर उसके पास से भागने लगे पेड़ पर चढ़ जा रहे हैं. इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है और बंदर भगाने के तरीके को लेकर लोग अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं.

हापुड़ जिले में बंदरों का हादसा आतंक है. इनके उत्पात से हर कोई परेशान है अभी तक तो शहर में बंदर आतंक मचा रहे थे लेकिन रूख देहातों की ओर भी मुड़़ गया है. जहां किसानों की फसल को यह बर्बाद कर देते हैं. इसके चलते हर कोई बंदरों के आतंक से परेशान हो गया है. बंदरों को भगाने के लिए एक व्यक्ति ने अनोखा तरीका अपनाते हुए बंदर का मुकाबला बाजार से लिया और उसे लगाकर मंदिरों के बीच पहुंच गया.

हाथ में गुलैल चेहरे पर मास्क लगाकर वोट देकर बंदर भाग खड़े हुए तो ही बृजघाट में दौरान युवक की चर्चा चारों तरफ होने लगी. जिसे देखकर बंदर पेड़ पर जाते हैं. स्थानीय लोगों ने नगर पालिका परिषद गढ़मुक्तेश्वर के प्रति नाराजगी भी जताई है. लोगों के अधिकारियों के इस तरह के दवाई जैसे लोग हैं नाराज दिखे.

इस मामले में जब विकास अधिकारी से बात की गई तो उन्होंने बताया कि बंदरों का प्रकोप इस समय अधिक देखा जा रहा है. इसलिए लंगूर की तैनाती बृजघाट में की जाएगी. जिससे कि वे बंदर हानि न पहुंचा सकें. साथ ही जब उनसे पूछा गया कि व्यक्ति मात्र बंदरों को भगाने का कार्य किया जा रहा है. तो उन्होंने कहा कि किसी द्वारा किया जा रहा है और उसका अच्छा रिस्पांस है तो उसे आगे भी कंटिन्यू किया जाएगा.

उत्तर प्रदेश में 8 IAS अफसरों का हुआ तबादला, यहां पढ़ें सूची