सिटी न्यूज़

मैनपुरी उप चुनाव: डिंपल यादव को क्यों हराना चाहते हैं मुलायम सिंह यादव के समधी, जानिए इस खबर में

मैनपुरी उप चुनाव: डिंपल यादव को क्यों हराना चाहते हैं मुलायम सिंह यादव के समधी, जानिए इस खबर में
UP City News | Nov 24, 2022 09:53 AM IST

फिरोजाबाद. कुछ दिनों बाद देश की कई लोकसभा सीटों पर उप चुनाव होने हैं. इसमें सबसे ज्यादा खास सीट उत्तर प्रदेश की मैनपुरी सीट को माना जा रहा है. यहां से मुलायम सिंह यादव सांसद ​थे लेकिन उनके निधन के बाद ये सीट खाली हो गई थी. इस पर अब सपा की ओर से मुलायम सिंह यादव के पुत्र पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव अपने ससुर की सियासी विरासत को बचाने के लिए चुनावी मैदान में हैं तो भाजपा ने मुलायम सिंह यादव के शागिर्द हे रघुराज शाक्य को मैदान में उतार कर दिया है. अब खबर आ रही है कि मुलायम सिंह यादव के समधी व पूर्व विधायक हरिओम यादव अपने समधी यानी मुलायम सिंह यादव की पुत्रवधु को हरवाना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि जब जरूरत पड़ती है तो अखिलेश यादव अपने नेताओं का इस्तेमाल करते हैं और मतलब निकल जाता है तो उन्हें बाहर का रास्ता दिखा देते हैं.

सैफई परिवार के रिश्तेदार, मुलायम सिंह यादव के समधी पूर्व विधायक हरिओम यादव ने कहा है कि मैनपुरी के उपचुनाव में शिवपाल यादव को जरूर सपा ने गले लगाया है लेकिन चुनाव के बाद फिर उनको धोखा ही मिलेगा. हरिओम यादव सपा के कद्दावर नेता रहे हैं लेकिन विस चुनाव से पहले उनको पार्टी विरोधी गतिविधियों का आरोप लगाकर निष्काषित कर दिया था. सिरसागंज से भाजपा से चुनाव लड़े लेकिन विस चुनाव हार गए. शिकोहाबाद स्थित आवास पर वार्ता में पूर्व विधायक ने कहा कि मैनपुरी उपचुनाव के बाद प्रसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल यादव को फिर समाजवादी पार्टी से धोखा मिलेगा. उनको रामगोपाल यादव नहीं बढ़ने देंगे. पूर्व विधायक ने कहा कि चाचा और भतीजे के एक मंच पर आने से भी चुनाव में कोई असर नहीं पड़ेगा. भाजपा चुनाव जीतेगी। कहा कि मैं सपा में 30 साल रहा लेकिन रामगोपाल ने हमारा और शिवपाल का कभी भला नहीं चाहा.